संघर्स 

जंगल में हर रोज सुबह होने पर
हिरण सोचता है की…….
मुझे शेर से ज़्यादा तेज भागना है!
नही तो शेर मुझे खा जाएगा !

और …
शेर हर सुबह उठ कर सोचता है की,
मुझे हिरण से तेज भागना है !
वरना में भूखा मार जाऊँगा !

आप शेर हो हिरण ,
उससे कोई मटलव नहीं है

अगर आप अच्छी जिंदगी जीना चाहते हो
तो हर रोज भागना पड़ेगा

संघर्स  के बिना कुछ नहीं मिलता है

Advertisements

One thought on “संघर्स 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s