इन योगा आसनों से आप अपना मोटापा कम कर सकते हैं

शरीर अगर स्वस्थ हो तो ज़िंदगी जीने का मज़ा ही कुछ और होता है। अपने स्वास्थ्य की ओर ध्यान देना हर इन्सान का प्राथमिक कर्तव्य है, लेकिन दुर्भाग्यवश बहुत कम ही लोग समय रहते अपनी health की ओर ध्यान देते हैं। नतीजतन वे समय से पहले ही तमाम रोगों से ग्रस्त हो जाते हैं। और ऐसे ही health issues में एक परेशानी जो काफी आम होती चली जा रही है वो है मोटापा।

कपालभाती प्राणायाम

Image Source:-onlyayurved.com

इस योगासन को करने के लिए स्वच्छ, शांत और खुले वातावरण वाली जगह का चयन करें। फिर एक चटाई जैसा आसन लगा कर सामान्य मुद्रा में बैठ जाएँ। बैठे बैठे ही अपने दाएँ पैर को बायी जंघा के ऊपर और बाए पैर को दायी जंघा के नीचे लगा लें। यह आसन जमाने के बाद, साँसों को बाहर छोड़ना होता है, और पेट को अंदर की और धकेलना होता है। इस क्रिया को सुबह के समय पाँच मिनट करना चाहिए।

Click Here to yoga.ayush.gov.in/Official Website “I Pledge to make YOGA an Integral Part of my Daily Life”

कपालभाती प्राणायाम करने के लाभ –

पेट की चरबी घटाने के लिए यह एक रामबाण उपाय है। इस आसन को करने से शरीर का वज़न कम होता है। इस गुणकारी आसन के प्रभाव से मोटापा घटाने में तो मदद मिलती ही है पर, उसके साथ साथ चहेरे की सुंदरता में भी निखार आता है। अगर किसी को आँखों के नीचे dark circles हो जाने की शिकायत रहती हो तो उन्हे कपालभाती आसन रोज़ करना चाहिए। पेट की तकलीफ़ों से पीड़ित व्यक्ति भी कपालभाती कर के पेट के रोगों से मुक्ति पा सकते हैं। कब्ज़, पेट दर्द, खट्टी डकार, एसिडिटी और अन्य प्रकार की पेट की बीमारियाँ कपालभाती करने से खत्म हो जाती हैं। कपालभाती करने से शरीर में positive ऊर्जा का संचार होता है और यादाश्त भी बढ़ती जाती है। कपालभाती गले से जुड़े हर रोग को नष्ट कर देता है

Read This:-कोलेस्ट्रोल(Heart Attack का कारण), क्या है पढ़िए इस बारे में जानकारी

नौकासन योग 

Image Source:-m.dailyhunt.in

नौकासन योग : नौकासन करने के लिए आप सबसे पहले पीठ के बल निचे लेट जाए फिर अपनी एड़ी और पंजे मिलाये और दोनों हाथ भी कमर से सटा कर रखे। अब अपने दोनों पैर, हाथ और गर्दन को धीरे-धीरे एक साथ समानांतर क्रम में ऊपर उठाए। इस अवस्था में शरीर का वजन नितंभ पर आना चाहिए। तीस सेकंड इसी पोज़िशन में रुकने के बाद फिर से पहले वाली पोज़िशन में आये और लेट जाए। इस आसान को चार से पांच बार दोहराये।

Read This:-देखना चाहेगें 1980 के दशक के सबसे लोकप्रिय भारतीय टीवी विज्ञापन

चक्रासन :

Image source:-m.dailyhunt.in

योग के तहत यह एक अहम आसन है, जिसके जरिये आप अपने पेट को दुरुस्त और संबंधित मसल्स को पूरी तरह ठीक रख सकते हैं। इस आसन में पहले आप पीठ के सहारे लेट जाएं, फिर घुटनों को मोड़ें और अपने पैरों के तलवे को कुछ दूरी बनाकर जमीन पर टिकाकर रखें। फिर अपने हाथों को शरीर की दिशा में ले जाएं। ध्यान रहे कि हथेलियां नीचे की ओर रहे। आप अपने हाथों को मिलाकर साथ रखें और फिर अपने शरीर को उपर की ओर उठाएं।

Click Here to continue reading..m.dailyhunt.in

Other Related Posts:-

 

Advertisements

  हिम्सुता,Luxury of Himanchal

Piture By:-PalampurPanorama

वर्तमान में कुल वोल्वो और स्कैनिया बसें  दिल्ली से शिमला, मनाली, धर्मशाला, जोगिंदर नगर, बैजनाथ, पालमपुर, रिवाल्सर और सरकाघाट से चलने वाली दैनिक बसों के साथ 100+ बसों में हैं।

इन  बसों में लक्जरी अर्द्ध-स्लीपर सीटें और चार्जिंग  हैं। अतिरिक्त सुविधाओं में मुफ्त वाईफ़ाई, और पानी की बोतल शामिल हैं